Hare Ka Sahara Tu Tere Bhakto Se Sunta Hu Khatu Shyam

Hare Ka Sahara Tu Tere Bhakto Se Sunta Hu Khatu Shyam
Hare Ka Sahara Tu Tere Bhakto Se Sunta Hu Khatu Shyam

Download MP3 Song Here.

Download MP3 Song Here
Download MP3 Song Here

हारे का सहारा तू तेरे भक्तों से सुनता हूँ खाटू श्याम हिंदी भजन लिरिक्स

हारे का सहारा तू तेरे भक्तों से सुनता हूँ
आंसू मेरे बोल रहे तेरे पास क्यों आया हूँ
हारे का सहारा तू……………

Hare Ka Sahara Tu Tere Bhakto Se Sunta Hu Khatu Shyam

जग से मैं नहीं हारा खुद को ही हराया है
जब वक़्त था पास मेरे मैंने व्यर्थ गंवाया है
मुझे मालूम है बाबा पापी से भी पापी हूँ
आंसू मेरे बोल रहे तेरे पास क्यों आया हूँ
हारे का सहारा तू……………

तेरी राह में आने से अब लगता है ये मुझको
शायद मेरे पैरों के छले दिखे तुझको
अंगारों की राहों से चलकर के मैं आया हूँ
आंसू मेरे बोल रहे तेरे पास क्यों आया हूँ
हारे का सहारा तू……………

लोगों से सुना बाबा ह्रदय में तू रहता है
तुझे मालूम ही होगा क्या क्या दिल सेहत है
इस धड़कन से पूछो न कैसे मैं जीता हूँ
आंसू मेरे बोल रहे तेरे पास क्यों आया हूँ
हारे का सहारा तू……………

Hare Ka Sahara Tu Tere Bhakto Se Sunta Hu Khatu Shyam

Leave a Reply

Your email address will not be published.