Main to Ram hi Ram Pukaru-Hanuman ji Bhajan

मैं तो राम ही राम पुकारू

राम जय जय राम श्री राम जय जय राम
मैं तो राम ही राम पुकारू


श्री राम नही मोरी सुध ली नि मैं कब से राह निहारु
राम जय जय राम श्री राम जय जय राम

Main to Ram hi Ram Pukaru-Hanuman ji Bhajan

बटेयु जाने वाले श्री राम प्रभु के मत वाले
तू राम नाम रस पी ले तन मन की प्यास बुजा ले
जग के कारा में पड़ा राम राम जय राम
उतरे हनुमत जान कर राम भक्त का धाम

मेघनाथ ने शक्ति मारी है
तेरा राम बड़ा दुःख हारी है
तुझे इक वैद ने उठाया है
तू संजीवन लेने आया है

किते से आवे किते को जावे
बाबा ने सब घेरा रे
जानू है बड़ी दूर बटेयु
कर ले रैन बसेरा रे

यही भगवन की आगेया है तू यही विश्राम करे
तू क्यों चिंता करता है जो करना है सो राम करे
राम लखन के जीवन में कभी होगा नही अँधेरा रे
जानू है बड़ी दूर बटेयु
कर ले रैन बसेरा रे

तुझे भूख प्यास नही लागे मैं ऐसा मन्त्र बता दूंगा
तुझे जिस पर्वत पे जाना मैं पल भर पे पोहुंचा दूंगा
अश्नान ध्यान करके तू आजा तोहे बना लू चेरा रे
जानू है बड़ी दूर बटेयु
कर ले रैन बसेरा रे

Main to Ram hi Ram Pukaru-Hanuman ji Bhajan

Leave a Reply

Your email address will not be published.